Janmashtami: कृष्ण पूजा में जरूर शामिल करें ये सामग्री और मंत्रों जाप

हम आपको Janmashtami 2022 Puja Samagri की पूरी यादी देंगे 

– लड्‌डू गोपाल की मूर्ति,  सिंहासन, रोली, सिंदूर, सुपारी, पान के पत्ते, फूल माला, कमलगट्टे, पीले वस्त्र, केले के पत्ते

– कुशा और दूर्वा, पंचमेवा, गंगाजल, शहद, शक्कर, तुलसी के पत्ते, शुद्ध घी, दही, दूध, मौसम के अनुसार फल, इत्र, पंचामृत, पुष्प

– कुमकुम, अक्षत, आभूषण, मौली, रुई, तुलसी की माला, खड़ा धनिया, अबीर, गुलाल, अभ्रक, हल्दी, सप्तमृत्तिका, सप्तधान,  बाजोट या झूला

– नैवेद्य या मिठाई, छोटी इलायची, लौंग, धूपबत्ती, कपूर, केसर, चंदन, माखन, मिश्री, कलश, दीपक, धूप, नारियल, अभिषेक के लिए तांबे या चांदी का पात्र

जन्माष्टमी पर करें श्रीकृष्ण के इन मंत्रों का जाप

– हरे कृष्ण, हरे कृष्ण, कृष्ण कृष्ण, हरे हरे राम, हरे राम, राम राम, हरे हरे

– श्री कृष्ण गोविंद हरे मुरारे, हे नाथ नारायण वासुदेवा

जन्माष्टमी पर करें श्रीकृष्ण के इन मंत्रों का जाप

– ॐ नमो भगवते तस्मै कृष्णाया कुण्ठमेधसे।  सर्वव्याधि विनाशाय प्रभो माममृतं कृधि।।

– ॐ नमो भगवते श्री गोविन्दाय